ब्रेकिंग न्यूज़

पटौदी PWD विभाग पर विजलेंस टीम गुरुग्राम की रेड, JE और क्लर्क रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार

पीडब्ल्यूडी के पटौदी कार्यालय में कार्यरत जेई ईश्वर सिंह एवं क्लर्क आजाद सिंह को गुरुग्राम विजिलेंस टीम ने 25 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। दोनों एक वेयरहाउस के लिए एनओसी देने के नाम पर रिश्वत ले रहे थे।



धीरज शर्मा, गुरुग्राम: पीडब्ल्यूडी के पटौदी कार्यालय में कार्यरत जेई ईश्वर सिंह एवं क्लर्क आजाद सिंह को गुरुग्राम विजिलेंस टीम ने 25 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। दोनों एक वेयरहाउस के लिए एनओसी देने के नाम पर रिश्वत ले रहे थे। उन्हें मंगलवार को अदालत में पेश किया जाएगा।


गांव बोहड़ाकलां निवासी विक्रम ने वेयरहाउस के एनओसी के लिए आवेदन दिया था। बताया जाता है कि जेई एवं क्लर्क ने 45 हजार रुपये मांगे थे। विक्रम ने इसकी शिकायत विजिलेंस कार्यालय में कर दी। इसके बाद विक्रम शर्मा को 25 हजार रुपये के साथ कार्यालय में भेजा गया। साथ ही विजिलेंस शाखा में डीएसपी सत्येंद्र दहिया के नेतृत्व में एक टीम भी पहुंच गई। पैसे लेते ही दोनों को दबोच लिया गया। जब तक अन्य अधिकारियों एवं कर्मचारियों को पता चला तब तक टीम दोनों को वहां से लेकर निकल चुकी थी। इस वजह से काफी देर तक किसी को पता ही नहीं चला कि मामला क्या था। बता दें कि कुछ दिन पहले ही बिजली निगम का एक सहायक लाइनमैन रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया था।


1 comment:

  1. Many folks have won a good amount at the slot machines, then misplaced it all again earlier than they left the on line casino. To avoid having that happen to you, make a plan for a way you’ll handle your winnings. Mills Novelty 바카라사이트 Co. created a feature within the 1920s known as “Skill Stop”, the place a player might push a button to stop the reels and try and affect a win. A feature still in style on games right now across the Illinois VGT market. Despite the initial recognition of Fey's invention, slot machines have undergone many transformations through the years.

    ReplyDelete