ब्रेकिंग न्यूज़

बिजनेस पार्टनर का झांसा देकर फेसबुक पर दोस्ती कर 1.24 करोड़ रुपये ठगने वाले 4 आरोपी पुलिस थाना साइबर अपराध गुरुग्राम ने पकड़े।

*✍️ बिजनेस पार्टनर बनाने का झांसा देते हुए 8.7 मिलियन डॉलर भेजने व डॉलर प्राप्त करने के लिए अलग-अलग चार्ज के नाम पर धोखाधड़ी करके 1.24 करोड़ रुपयों की ठगी करने वाले 04 शातिर आरोपियों को पुलिस थाना साईबर अपराध, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने किया काबू।*

*✍️ आरोपियों के कब्जा से कुल 22 मोबाईल फोन, 01 लाख 40 हजार रुपयों की नगदी, 02 पैन ड्राइव, 01 बैंक पासबुक, 01 चैकबुक व 01 ATM कार्ड किए गए बरामद।*

*✍️ आरोपियों को पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लेकर अन्य वारदातों व साथी आरोपियों के बारे में गहनता से पूछताछ करते हुए की जाएगी बरामदगी।*
▪️ धीरेंद्र कुमार निवासी 1511 मारुति विहार चकरपुर, गुरुग्राम ने एक लिखित शिकायत के माध्यम पुलिस थाना साईबर अपराध, गुरुग्राम की पुलिस टीम को बतलाया कि फेसबुक के माध्यम इसकी दोस्ती पूनम मकेला नाम की एक औरत से हुई, जिसने अपने आप को यू.के. में रहना बतलाया और बताया कि वह यू.के. में आर्मी एंटी टेरीरिस्ट विभाग में कार्यरत है। अब वह भारत में मेडीसिन की कंपनी खोलना चाहती है। उसे एक बिजनेस पार्टनर की जरूरत ही और यह उसके साथ बिजनेस ज्वाइंन कर सकता है। उसने इससे कहा कि वह 8.7 मिलियन डॉलर का एक बॉक्स उसके पास भेज रही है। इसका एजेंट यह बॉक्स लेकर आएगा। इस प्रकार उस बॉक्स को प्राप्त करने के अलग-अलग प्रकार के विभिन्न चार्ज के नाम पर धोखाधड़ी करके इससे 1.24 करोड़ रुपयों की ठगी कर ली।

▪️इस शिकायत से संबंधित सभी तथ्यों के अध्ययन के बाद दिनाँक 12.09.2020 को थाना साईबर अपराध, गुरुग्राम में कानून की सम्बंधित धाराओं के तहत अभियोग अंकित किया गया।

▪️ इस अभियोग में निरीक्षक जसवीर सिंह, थाना प्रबंधक साईबर अपराध, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने श्री के.के. राव IPS, पुलिस आयुक्त, गुरुग्राम, श्रीमती आस्था मोदी IPS, पुलिस उपायुक्त मुख्यालय, गुरुग्राम तथा श्री कर्ण गोयल ACP DLF, गुरुग्राम के मार्गदर्शन/दिशा-निर्देशों के तहत कार्यवाही करते हुए पुलिस तकनीकी की सहायता से व अपनी समझबूझ से उपरोक्त अभियोग से संबंधित सभी दस्तावेज हासिल किए, जिनके गहन अध्ययन से व पुलिस टीम के कड़ी मेहनत व अथक प्रयासों के परिणामस्वरूप पुलिस टीम द्वारा उपरोक्त अभियोग में धोखाधड़ी से रुपयों की ठगी करने वाले निम्नलिखित 04 आरोपियों को दिल्ली से काबू करने में बड़ी सफलता हासिल की है:-

*1.  Kelenchi s/o Ezeoyiwara r/o Lagos City Elcorodu, Naigiria Present Address Flat No. 401 Tulip Appartment Ward No. 3, Mahrauli, Delhi.*

*2.  Treasue S/o Ezeoyiwara r/o Lagos City Elcorodu, Naigiria Present Address Flat No. 401 Tulip Apartment Ward No. 3, Mahrauli, Delhi.*

*3. रणजीत कुमार ठाकुर पुत्र श्री रामबदन ठाकुर निवासी गांव रामचन्द्रपुर थाना लखीसराय जिला लखीसराय, बिहार, हाल निवासी मकान नंबर-7/9 नजदीक गौशाला मंदिर, थाना किशनगढ़, दिल्ली।*

*4. मर्फी एमावोडिया पुत्र जॉनसन एमावोडिया निवासी एमेवार नाईजीरिया हाल निवासी 10/9, कृष्णा अपार्टमेंट किशनगढ़, दिल्ली।*

▪️उपरोक्त आरोपियों द्वारा जालसाजी करके ठगी करने के लिए उपरोक्त आरोपी रणजीत कुमार ठाकुर के नाम से बैंक खाता खुलवाया हुआ था, जिसमें इन्होंने पीड़ित के साथ धोखाधड़ी करके पैसे ट्रांसफर कराए थे। पुलिस टीम इस बैंक खाते व दस्तावेजों का गहन अध्ययन करते हुए दिनाँक 28.09.2020 को इस बैंक खाता के खाता धारक रणजीत कुमार ठाकुर को दिल्ली के काबू किया तथा इससे पूछताछ करते हुए इसके दूसरे साथी मर्फी एमावोडिया उपरोक्त को भी दिल्ली से काबू किया गया। इन दोनों आरोपियों को माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके पुलिस हिरसात रिमांड पर लिया गया।

▪️आरोपी रणजीत कुमार ठाकुर व आरोपी मर्फी एमावोडिया उपरोक्त ने पुलिस पूछताछ में उपरोक्त अभियोग की वारदात को अन्जाम देने में शामिल अपने उपरोक्त 02 साथियों Kelenchi s/o Ezeoyiwara तथा Treasue S/o Ezeoyiwara का खुलासा किया। 

▪️पुलिस टीम ने आगामी कार्यवाही करते हुए आज दिनाँक 30.09.2020 को उपरोक्त दोनों आरोपियों Kelenchi s/o Ezeoyiwara तथा Treasue S/o Ezeoyiwara को दिल्ली से काबू करने में बड़ी सफलता हासिल की व आरोपियों को अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया। 

▪️पुलिस टीम ने *आरोपियों के कब्जा से कुल 22 मोबाईल फोन, 01 लाख 40 हजार रुपयों की नगदी, 02 पैन ड्राइव, 01 बैंक पासबुक, 01 चैकबुक व 01 ATM कार्ड बरामद* किये है।

▪️आरोपियों को माननीय अदालत में पेश करके पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया गया है।

▪️पुलिस हिरासत रिमाण्ड के दौरान आरोपियों से अन्य वारदातों व अन्य साथी आरोपियों के बारे में गहनता से पूछताछ करते हुए उपरोक्त अभियोग में बरामदगी की जाएगी। अभियोग अनुसंधनाधीन है।

No comments