ब्रेकिंग न्यूज़

पटौदी से केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के सुरक्षा कर्मी का अपहरण !

लाॅक डाउन में बड़ी वारदात

घटना पटौदी में राजपुरा गांव के पास पट्रोल पंप के नजदीक की

अज्ञात हथियारबंद सुरक्षाकर्मी को बदमाशों ने खुड्डन के पास फैंका

पटौदी थाना पुलिस ने किया अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज

फतह सिंह व धीरज शर्मा



पटौदी।
 लाॅक डाउन के दौरान, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के सुरक्षाकर्मी के अपहरण का सनसनी खेज मामला सामने आया है। यह घटना पटौदी हलके में पाल्हावास-जाटौली के बीच में गांव राजपुरा के पास पट्रोल पंप के नजदीक की है। इस मामले में पटौदी थाना पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ भादस की विभिन्न घाराओं के तहत मामला दर्ज कर, अपनी जांच पड़ताल आरंभ कर दी है। मामला केंद्रीय गृहमंत्री से जुड़ा और हाई प्रोफाइल होने के कारण पुलिस के लिए बड़ी चुनौती सहित प्रतिष्ठा का सवाल बना है। देश के गृहमंत्री के सुरक्षा कर्मी जिसका अपहरण करके बदमाश झज्जर जिला के गांव खुड्डन ले गए पटौदी थाना एसएचओ सुरेश कुमार के द्वारा उसकी पहचान रिषी राज पुत्र श्योताज निवासी कोसली के रूप में की गई है।

सूत्रों के मुताबिक इस वारदात की जानकारी मिलते ही संबंधित जिला के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों में भी हलचल मच गई। बताया गया है कि गुरूग्राम के साथ-साथ झज्जर पुलिस संबंधित थाना क्षेत्र के आला पुलिस अधिकारी भी दोनों ही घटना स्थल पर पहुंचंे और सुरक्षाकर्मी रिषी से वारदात के विषय में बारीकी से जानकरी लेने के साथ सारे हालात का विशलेषण किया।
                             Advertisement

जानकारी के मुताबिक कोसली निवासी रिषी पुत्र श्योताज, जो कि देश के गृहमं़त्री अमित शाह की सुरक्षा गार्द में सुरक्षाकर्मी है, बीती सायं अपनी ब्रेजाकार एचआर 43सी 0389 में सवार होकर दिल्ली के लिए नूरगढ-जाटौली रोड से होते हुए जा रहा था। जैसे ही रिषी गांव राजपुरा के पास में यहां पट्रोल पंप के नजदीक के नजदीक पहुंचा तो, उसकी कार को टेक ओवर करके अन्य कार सवारों ने रोक लिया। जब तक रिषी कुछ समझ पाता, कार सवार बदमाशों में से कुछ साथी उतरे और रिषी के सिर पर पिस्टल नुमा हथियार से जोरदार प्रहार किया और रिषी बेहोश हो गया। इसके साथ ही बदमाशों ने रिषी पर हमला करने व बंहोश होने के साथ ही इसकी आंखों पर काली पट्टी भी बांध दी थी।

सूत्रों के मुताबिक बदमाशों का ही साथी अपनी कार में और अन्य बदमाश साथी रिषी को वापिस पाल्हावास होते हुए झज्जर के गांव खुड्डन पहुंचे तथा यहां बंहोश रिषी को सड़क किनारे पटककर उसकी मारूति ब्रेजा कार को लूटकर फरार हो गए। झज्जर के खुड्डन गांव में होश आने पर रिषी ने किसी राहगीर के फोन से पुलिस कंट्रोल में अपने साथ घटित वारदात के बारे में सूचना दी, तो पटौदी से साथ ही झज्जर पुलिस के भी हाथपांव फूल गए। सूत्रों के मुताबिक पुलिस केंद्रीय गृहमंत्री अतिम शाह के सुरक्षाकर्मी को झज्जर के गांव खुड्डन से अपने साथ लेकर घटना स्थल गांव राजपुरा पहुंची और घटित वारदात के संदर्भ में मौका मुआयना सहित उस वक्त के हालात का भी जायजा लिया। बताया गया है कि जिस समय यह वारदात को बदमाशों के द्वारा अंजाम दिया गया, पूरी सड़क सूनी तथा आसपास में अन्य कोई भी नहीं था। अभी इस बात का भी सही प्रकार से भेद नहीं लग सका है कि हमलावरों की संख्या कितनी थी और रिषी जो कि गृहमंत्री की सुरक्षागार्द का सुरक्षाकर्मी है, उस पर हमला क्यों किया गया या फिर कोई पुरानी आपसी रंजिश तो नहीं थी। पुलिस बीच रास्ते के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है जिससे कि हमलावरों की पहचान की जा सके।

No comments