ब्रेकिंग न्यूज़

पटौदी एसडीएम आफिस के कर्मचारी का पुत्र कोरोना पाॅजिटिव

48 घंटे में वार्ड आठ में एक और पाॅजिटिव मामला

एक दिन पहले ही पूर्व एमओ का बेटा था पाॅजिटिव


अभी तक वार्ड 8 को नही किया गया पुनः सेनेटाइज

पटौदी।
 पटौदी पालिका क्षेत्र को एक बार फिर से काविड 19 की नजर लग गई है। 48 घंटे के अंदर ही यहां वार्ड 8 में ही एक और मामला कोविड 19 पाॅजिटिव सामने आया है। इसकी पुष्टि स्वयं जिला प्रशासन के साथ ही पटौदी की एसएमओ डा नीरू यादव के द्वारा की गई है।


जानकारी के मुताबिक रविवार को जिस 24 वर्ष के युवक जो कि पटौदी पालिका के वार्ड आठ में ही राम मंदिर के पास में रहने वाला है और उसके पिता पटौदी एसडीएम आफिस में बतौर चैकीदार कार्यरत है, का पुत्र है। अब बीते 48 घंटे की बात करे तो पटौदी पालिका क्षेत्र में ही वार्ड आठ से दो कोविड 19 पाॅजिटिव मामलों ने स्थानीय प्रशासन के साथ ही स्वास्थ्य विभाग की नींद उड़ा डाली है। वहीं देहात की बात की जाए तो डाडावास में एक साथ काविड 19 पाॅजिटिव का चैका लगने से डाडावास सहित आसपास के गांवों में भी दहशत का माहौल बना है। फिलहाल इस बात की पुष्टि नहीं हो सकी है कि, वार्ड आठ के कोविड 19 पाॅजिटिव युवक के पिता क्या लगातार अथवा निसमित रूप से पटौदी एसडीएम आफिस में अपनी डयूटी पर आ रहे थे।

इधर अपने ही आफिस के कर्मचारी के परिवार के सदस्य के कोविड 19 पाॅजिटिव घोषित किया जाने के साथ ही एसडीएम राजेश कुमार प्रजापत ने कोविड 19 की जांच करने व सेंपल लेने वाली स्वास्थ्य विभाग की टीम को निर्देश जारी कर दिये है कि सोमवार को समस्त स्टाफ की जांच के लिए एसडीएम आफिस में 11 बजे पहुंचे, साथ ही कार्यालय के सभी कर्मचारी भी अपनी-अपनी जांच के लिए मौजूद रहेंगे। एसडीएम आफिस के कर्मचारी के पुत्र के कोविड 19 संक्रमित मिलने के साथ ही कथित रूप से अन्य स्टाफ सदस्यों में बेचैनी फैल गई है, क्यों कि संक्रमित युवक के पिता का आफिस में सभी के पास में निश्चित रूप से आवागमन भी रहा ही होगा। सूत्रों के मुताबिक वार्ड आठ के इस युवक को बुखार आने के बाद में गुरूवार को ही पटौदी अस्पताल में सेंपल लिया था, जिसकी रिपोर्ट रविवार देर सायं को आई। सूत्रों के मुताबिक पीड़ित युवक के घर में उसके अलावा पिता-माता सहित कुल पांच सदस्य है।।           
                                Advertisement


हैरानी इस बात को लेकर भी है कि वार्ड आठ में पहला पाॅजिटिव मामला आने के बाद अभी तक भी न तो आपपास में रहने वालो की थर्मल सकैंनिंग की गई और न ही सेनेटाइज किया जाने की जरूरत महसूस की गई है। एक बार फिर से जिस प्रकार दो दिन में दो मामले कोविड 19 संक्रमित सामने आ चुके है, इनको देखते हुए , वार्ड आठ के पहले संक्रमित के आवास के पास में ही पालिका चेयरमैन का आवास, पटौदी के एमएलए का आफिस और कुछ ही दूरी पर कोर्ट को ध्यान में रखते हुए सेनेटाइज नहीं किया जाना कथित बड़ी लापरवाही ही ठहराया जाएगा।

No comments