ब्रेकिंग न्यूज़

पटौदी के गांव डाडावास गांव के 4 और पटौदी का 1 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव, पॉजिटिव में एक 5 साल की बच्ची भी शामिल

पटौदी। पटौदी पालिका क्षेत्र के साथ-साथ अब कोविड 19 ने देहात में जबरदस्त कहर  देखने को मिल रहा है। पटौदी के गांव डाडावास में एक ही घर के चार सदस्य एक साथ कोविड 19 संक्रमित जांच रिपोर्ट आने के साथ में कंफर्म हुए है। कोविड 19 संक्रमित होने की पुष्टि जिला प्रशासन सहित स्वास्थ्य विभाग के द्वारा की गई है।

 पटौदी क्षेत्र में यह पहला मामला और मौका है , जब एक ही गांव में एक ही परिवार के एक साथ चार सदस्य कोंविड 19 संक्रमित जांच में सामने आये है। वैसे यह चारों जिनकें कोविड 19 संक्रमित होने की पुष्टि की गई हैं, इन सहित परिवार के कुल आठ सदस्यों को बीते शनिवार मध्य रात्री में स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जांच सहित सेंपल के लिए बोहड़ाकला के नीलकंठ अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में रखा हुआ था। शुक्रवार को परिवार के चार सदस्यों की रिपोर्ट पाॅजिटिव आनंे के बाद से गांव डाडावास में एक बार फिर से कोविड 19 हव्वा बन गया है।

बीते सप्ताह ही गांव के रहने वालें तथा सेक्टर दस गुरूग्राम अस्पताल में बतौर गार्ड कार्यरत व्यक्ति की तबीयत खराब होने के बाद, अस्पताल प्रशासन ने जांच के लिए सेंपल लेने के बाद छुट्टी देकर घर भेज दिया था। इसके बाद में बीते शनिवार को जब यह अपनी डयूटी पर गुरूग्राम अस्पताल पहुंचा तो वहां सायं के समय उसकी रिपोर्ट पाॅजिटिव आने के बाद पटौदी प्रशासन को सूचित कर परिवार के आठ सदस्यों को उसी रात में जांच और सेंपल के लिए बोहड़ाकला नीलकंठ अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में गांव से लाया गया।

विभागीय और पटौदी प्रशासन के द्वारा पुष्टि करते बताया गया है कि, डाडावास में शुक्रवार को चार लोग कोविड 19 संक्रमित जांच में सामने आये है। इन चार पाॅजिटिव में परिवार के मुखिया के दो बेटे, विवाहिता पुत्री और उसकी एक छोटी बेटी शामिल है। बताया गया है परिवार के संक्रमित पाये मुखिया की तबीयत खराब होने की जानकारी मिलने पर ही उसकी विवाहिता पुत्री अपने तीन बच्चों को लेकर मायके गांव डाडावास आई हुई थी। वहीं दोनो बेटे जो कि जांच के बाद अब संक्रमित सामने आये, यह दोनों ही छा़त्र बतायंे गए है। सूत्रों के मुताबिक परिवार के संक्रमित  मुखिया के पिता, पत्नी और उसकी विवाहिता पुत्री के दो बच्चों की रिपोर्ट नेगेटिव बताई गई है।
एक साथ चार लोगों की एक ही परिवार में पाॅजिटिव रिपोर्ट आने के बाद अब गांव में और भी अधिक भय का माहौल बन पड़ा है, क्यो कि मुखिया का बीते सप्ताह गांव में रहते हुए आसपास में आना-जाना लगा ही रहता था, वहीं इस बात से भी इंकार नहीं कि शुक्रवार को कोविड 19 संक्रमित घोषित सदस्य भी किसी से न मिले हो या अन्य लोग इनके संपर्क में नहीं आये हो।  

No comments