ब्रेकिंग न्यूज़

गुरुग्राम से 1400 प्रवासी नागरिकों को लेकर मणिपुर के जरिबम के लिए रवाना हुई 'श्रमिक स्पेशल ट्रेन'

गुरुग्राम से 1400 प्रवासी नागरिकों को लेकर मणिपुर के जरिबम के लिए रवाना हुई श्रमिक स्पेशल ट्रेन

- आरव व माही ने अपने गुल्लक में जमा पैसों से ट्रेन में सफर करने वाले बच्चों को बांटे खिलौने व चॉकलेट
गुरुग्राम, 25 मई। गुरुग्राम रेलवे स्टेशन से आज 1400 प्रवासी नागरिकों को लेकर श्रमिक स्पेशल ट्रेन मणिपुर के जरिबम नामक स्थान के लिये रवाना हुई।
यूँ तो लॉक डाउन में फंसे यात्रियों को  लेकर जाने वाली श्रमिक स्पेशल ट्रेन के जाने के समय रेलवे स्टेशन  पर मानवता से जुड़े एक से बढ़कर एक उदाहरण हम रोजाना देख रहे हैं। आज एक ऐसा ही उदाहरण गुरुग्राम के रेलवे स्टेशन पर देखने को मिला। रेलवे स्टेशन पर छठी कक्षा में पढ़ने वाले आरव तथा 10वीं की छात्रा माही दोनों भाई- बहन आज ट्रेन में सफर करने वाले नागरिकों के साथ जा रहे बच्चों को खिलौने व चॉकलेट बांटते नजर आए। इन दोनों बच्चों ने जिस अपनेपन से खिलौने बांटे वह नजारा देखने लायक था। दोनों में इतना चाव था कि वे करीब 4:30 बजे गुरुग्राम रेलवे स्टेशन पर अपने गुल्लक के पैसों से खरीदे गए ढेर सारे खिलौने व चॉकलेट लेकर पहुंच गए थे, जबकि ट्रेन छूटने का समय शाम 6:00 बजे का था। जब इनसे इस बारे में पूछा गया तो माही ने बताया कि वह अपने भाई आरव के साथ आई है और उन्होंने अपना गुल्लक तोड़कर सफर करने वाले बच्चों के लिए खिलौने व चॉकलेट खरीदे हैं। उसने कहा कि लॉक डाउन की वजह से अपने घरों को जा रहे बच्चों को वे भी अपनी तरफ से तोहफा देना चाहते थे, इसीलिए आज स्टेशन पर आए हैं। खिलौने और चॉकलेट बांटने में सिविल डिफेंस कर्मियों ने उनकी मदद की। प्रवासी बच्चे भी उपहार पाकर खुश थे , कुछ नहीं माही और आरव को थैंक्यू भी बोला ।
                  Advertising
ट्रेन ठीक शाम 6:00 बजे रवाना हुई। सभी यात्रियों ने उन्हें घर जाने के लिए मुफ्त  टिकट तथा भोजन आदि की व्यवस्था करने के लिए  हरियाणा सरकार  के पक्ष में जयकारे लगाए । 
जाने से पहले रेलवे स्टेशन पर इन सब के  स्वास्थ्य की जांच की गई व हाथों को सैनेटाइज करवाकर भोजन व पानी दिया गया। प्रत्येक यात्री की थर्मल स्कैनिंग करके उन्हें मास्क उपलब्ध करवाए गए। इसके उपरांत उन्हें टिकट निशुल्क टिकट देकर ट्रेन में बिठाया गया।
प्रवासी नागरिकों को जिला प्रशासन की ओर से भोजन व पानी उपलब्ध करवाया गया।  सिविल डिफेंस के उप नियंत्रक एवं वजीराबाद के तहसीलदार मनीष यादव ने स्वयं अपने हाथों से प्रवासी नागरिकों को खाने के पैकेट बांटे। सफर के दौरान प्रवासी नागरिकों को किसी प्रकार की परेशानी ना हो, इसलिय   उन्हें  नमकीन, बिस्किट, फेस मास्क , साबुन  सहित अन्य जरूरत के सामान की किट बनाकर दी गई है।  
रेलवे स्टेशन पर  उपस्थित बादशाहपुर के एसडीएम हितेंद्र शर्मा ने बताया कि सरकार के आदेशानुसार पंजीकृत प्रवासी नागरिकों को ट्रेन व बसों के माध्यम से उनके गृह राज्यों तक भिजवाया जा रहा है। प्रत्येक प्रवासी नागरिक को स्वास्थ्य जांच के बाद मेडिकल फिटनेस प्रमाणपत्र दिया गया है । इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष तौर पर ध्यान रखा गया।
इस अवसर पर एसीपी सीआईडी गुरुग्राम जितेन्द्र गहलावत , एसीपी ओल्ड गुरुग्राम अशोक ,  इंस्पेक्टर सीआईडी वेस्ट गुरुग्राम, एसडीएम बादशाहपुर हितेंद्र शर्मा, सिविल डिफेंस के उप नियंत्रक एवं वजीराबाद के तहसीलदार मनीष यादव, कोऑर्डिनेटर मोहित शर्मा व सिविल डिफेंस के अन्य कर्मचारी मौजूद रहे।

No comments